पेट संबंधी किसी भी समस्या के लिए कारगर है यह इसबगुल, जानिए इसके सेवन का सही तरीका

0
300

दोस्तों बाजार में ‘इसबगुल’ का महत्व दिन-ब-दिन बढ़ता ही जा रहा है। यह इसबगुल पाचन तंत्र से जुड़ी सभी समस्याओं के लिए औषधि के रूप में कार्य करता है। ज्यादातर लोगों ने पहली बार इसबागुल का नाम लिया होगा। तो आज इस लेख में हम इसबगुल और हमारे शरीर को इसके लाभों के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त करेंगे।

 इसाबागुल को ‘सेलियम हस्क’ के नाम से भी जाना जाता है। इसबागुल एक रस्सी का बीज है जिसे प्लांटैगो ओवाटा कहा जाता है। इसकी पत्तियां मुख्य रूप से एलोवेरा की तरह दिखती हैं।

इसके पौधे में गेहूँ जैसे बड़े फूल होते हैं। जिसमें ईसबगुल बीज प्राप्त होता है। इसबगुल का उपयोग आयुर्वेदिक निदान में भी किया जाता है। यह अपने रेचक, शीतलन और मूत्रवर्धक तत्वों और गुणों के लिए जाना जाता है। इसाबागुल प्राकृतिक रूप से चिपचिपा होता है। जब यह पानी में डूबा होता है,

तो यह सूज जाता है। यह एक जेल बनाता है। इसाबगुल को लेने से आपको पेट से संबंधित किसी भी समस्या का शीघ्र निदान करने में मदद मिलेगी।

इसमें मौजूद स्वादिष्ट गुणों के कारण यह हमारे पेट की आंतों को साफ करने में काफी मददगार होता है और हमारी पाचन शक्ति को मजबूत करने का भी काम करता है। इसके अलावा यह कब्ज, डायरिया, मल में खून आना, पाचन संबंधी समस्याएं, डिहाइड्रेशन, मोटापा और मधुमेह जैसी समस्याओं के निदान के लिए बहुत उपयोगी है।

अगर आप पेट से संबंधित समस्याओं जैसे कब्ज और पाचन समस्याओं का निदान करना चाहते हैं, तो रात के खाने के बाद आपको 1 चम्मच इसबगुल को एक गिलास गर्म दूध में मिलाकर सेवन करना चाहिए और इन सभी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए इसका सेवन करना चाहिए।

दस्त या लंबे समय तक कब्ज के दौरान रक्तस्राव होने पर 1/2 कप इसबगुल को पानी के साथ लें। 1 गिलास पानी में 20 मिली इसबगुल डालें। यह आंतों की रुकावट और संक्रमण को दूर करता है।

इसबगुल के फायदे:

इसबगुल वजन को नियंत्रित करने में मदद करता है:

कई बार आपकी आंतों में अपशिष्ट के कारण शरीर में चर्बी बढ़ने लगती है। अगर आप अपने वजन को नियंत्रण में रखना चाहते हैं, तो आप सोते समय कुछ दिनों के लिए इसबगुल का सेवन कर सकते हैं। इसबगुल का सेवन आपको वजन घटाने में मदद करता है।

कब्ज की समस्या से छुटकारा :

कब्ज एक ऐसी समस्या है जिससे ज्यादातर लोग पीड़ित हैं। कब्ज के कारण सिरदर्द और आलस्य जैसी समस्याएं भी पैदा होती हैं, इसलिए कब्ज से छुटकारा पाना बहुत जरूरी है। अगर आप भी कब्ज से छुटकारा पाना चाहते हैं तो रात को सोने से पहले 2 चम्मच इसबगुल को थोड़े से गर्म पानी में मिलाकर ले सकते हैं।

दिल को स्वस्थ और मजबूत बनाता है:

इसबगुल में फाइबर की मात्रा हमारे शरीर के लिए बेहद फायदेमंद साबित होती है। इसबगुल का नियमित सेवन कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है और हृदय संबंधी बीमारियों को दूर करने में मदद कर सकता है। डॉक्टर भी अक्सर एसबगुल के इस्तेमाल की सलाह देते हैं

क्योंकि इसमें बहुत अधिक मात्रा में फाइबर होता है जो फैट कम करने में मदद करता है, यह दिल से जुड़ी बीमारियों से बचाता है। इसके अलावा कब्ज और एसिडिटी भी हृदय रोगों का एक प्रमुख कारण हो सकता है, इसलिए इसबगुल के सेवन से ही इससे छुटकारा मिल सकता है।

डायरिया की समस्या से छुटकारा :

क्या आप सोच सकते हैं कि आप अपने सरल और आसान घरेलू उपचारों से डायरिया और डायरिया जैसी समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं। इन दोनों समस्याओं के निदान में ईसबगुल का सेवन फायदेमंद साबित होता है। दही के साथ एसबागुल का सेवन करने से पेट से संबंधित समस्याएं दूर होती हैं।

पाचन तंत्र को मजबूत करने में मदद करता है:

इसमें मौजूद फाइबर के गुणों के कारण यह हमारे पाचन के लिए काफी मददगार होता है। यह हमारे पेट में मौजूद गैस को साफ करने में हमारी मदद करता है। साथ ही यह आंतों में भोजन के पाचन की गति को भी बढ़ाता है। पाचन क्रिया को मजबूत करने के लिए भोजन के बाद छाछ के साथ इसबगुल का सेवन करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here